Hastmaithun ke nuksan in Hindi

Logo ko galat fahmi rahti hai hastmatihun se ko bhi nuksan nhi hota lekin sach toh yahi hai ki jitne nuksan hastmaithun se hote hai utne toh kisi or rog se bhi nahi hote hai .

Aap detailed guide yaha pad sakte hai :http://www.hastmethun.in/hastmaithun-ke-nuksan-in-hindi/

लिंग में सूजन का हो जाना :

kai baar log jaldwazi me bahut teji se hastmethun karne lagte hai jisse veerya uske ling ke ander chala jaata hai.

इसका परिणाम यह होता है कि व्यक्ति के लिंग में सूजन आने लगती है और तब तक रहती है जब तक वह वापस खून (blood) में न मिल जाये.

Ye tha hastmaithun ke nuksan in hindi ka sabse dangerous nuksan .

*. लिंग की मांसपेशियों का टूट जाना :

कई लोग हस्तमैथुन (masturbation) करते समय अपने लिंग (penic) को बहुत ही मजबूती से जकड़ लेते है और उसे दबाने या मोड़ने लगते है. ऐसा करने से आपको गंभीर समस्या का सामना करना पड़ सकता है.

ऐसा करने से आपके लिंग की मांसपेशियां टूट सकती हैं और पायरोनी नाम की बीमारी भी हो सकती है. इस बीमारी से व्यक्ति का लिंग टेढ़ा हो जाता है.

*. मानसिक तनाव का होना :

अगर आप हस्तमैथुन करते है तो आपने जरुर यह ध्यान दिया होगा कि हस्तमैथुन के बाद आप बहुत ही बुरा महसूस करते होंगे. हस्तमैथुन आपको काफी मानसिक तनाव (mental tension) दे सकता है. यह तनाव ऐसा होता है जिसमे आप खुद को ही दोषी मानने लगते है.

अगर आप तनाव में रहेंगे तो आप अवसाद का शिकार हो सकते है. हस्तमैथुन करने से कई बार घबराहट भी पैदा होती है.

*. अवैध संबंधो का बन जाना :

व्यक्ति हस्‍तमैथुन करते समय हमेशा ही कल्पनाओ में खोया रहता है. इससे उस व्यक्ति कि sex के प्रति चाह में निरंतर बढ़ोतरी होती रहती है. अपनी सेक्स कीभूख को शांत करने के लिए वह अवैध संपर्कों की ओर चले जाता है.

इससे जाने अनजाने वह कई ऐसी भूल कर देता है जो उसे ज़िन्दगी भर पछतावा देते रहता है. कई बार तो व्यक्ति इससे यौन अपराधो में भी शामिल हो जाता है.

*. अपने पार्टनर से झगडा होना :

कई ऐसे लोग भी होते है जिनका अपने partner के साथ झगड़ा होता रहता है. जिस कारण वे हस्तमैथुन की ओर रूख कर लेते है. लगातार हस्तमैथुन करने से उनको हस्तमैथुन में ही सुख नजर आने लगता है.

जब ऐसे लोग संभोग करते है तो उस दौरान उनका स्खलन बहुत ही तेजी से होने लग जाता है. परिणामस्वरूप इससे उनकी पत्नी उनसे नाराज रहने लग जाती है और रिश्ता ख़राब हो जाता है.

 

*. चयापचय पर बुरा असर होना :

हस्‍तमैथुन करने से एक बड़ी समस्या यह होती है कि व्यक्ति के चयापचय (chayapachay) पर इसका बुरा असर पड़ता है. हस्‍तमैथुन करते वक्त जो पहला गीला द्रव निकलता है उसमे प्रोटीन (protin) होता है. जो सेल संरचनाओं के लिए आवश्यक होता हैं.

आप यह जरुर जानते होंगे की प्रोटीन हमारे शरीर (body) के लिए कितना अहम है. इसका लगातार स्खलन आपको दुबला (dubla) बना देता है.

 

लिंग में उत्तेजना का बंद हो जाना :

अधिक मात्रा में हस्तमैथुन करने से अक्सर लिंग के ऊतक में चोट पहुंच जाती है और ये ऊतक नष्ट होने लगते है. इससे लिंग में उत्तेजना (uttejana) बंद हो जाती है. कई बार इससे व्यक्ति को उत्तेजना आना हमेशा के लिए बंद हो जाती है.

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s